Topfive03.com पर आप सभी को हिंदी में हर प्रकार के top five list,tech news tips and tricks .

Saturday, March 28, 2020

चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?


बहुत दिनों से कोरोना ने अपना नाम बना लिया है पूरी दुनिया में कारोना वायरस की वजह से लगभग सारी दुनिया में डर का माहौल बन गया है. 
जहा तक हम सभी को इस बात का तो पता है ही की इस वायरस की शुरुवात चीन के वुहान सहर से हुई है. 
तो क्या चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?
चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?


कोरोना वायरस कहा से आया है ?


सबसे पहले कोरोना वायरस की शुरुवात नवंबर के महीने में ही चीन में इसका सबसे पहले मरीज के बारे में जान गया था डॉक्टर ने चीनी सरकार को इसके बारे में बताया था कि हम एक नए प्रकार के वायरस से लड़ रहे है.
इसका नाम कोरोना है और ये कोरोना परिवार का ही हिस्सा है covid 19  लेकिन उस वक्त चीन कि सरकार ने उस डॉक्टर की बात को इनकार करते हुए इस बात को दबा दिया और उस डॉक्टर को भी मना कर दिया कि इस बात कि जानकारी आगे नहीं जानी चाहिए चीन चाहता था कि इस बात कि जानकारी दूसरे देश को नहीं होनी चाहिए इस लिए चीन इस बात को छुपा रहा था.
लेकिन जब इस बात का अंदाजा चीन को हो गया कि अब इस बात को छुपा नहीं सकते तो चीन ने इस वायरस कि जानकारी WHO को दी और उसके बाद इस कोरोना वायरस  इस बीमारी को एक महामारी में बता दिया.

कितने देश में कोरोना ने अपना कब्जा कर लिया है?


जब कोरोना वायरस की शुरुवात हुई थी तब तक ये मात्र चीन के वुहान नामक जगह तक था लेकिन अब ये वायरस इतना फैल चुका है कि दुनिया के 195 से जायदा देश को इस वायरस ने अपनी चपेट में लेलिया है.
और आज के मजुदा हाल ऐसा है कि अमेरिका इस कोरोना वायरस का केंद्र बन गया है लगभग 618,325 लोग इस वायरस के चपेट में है.

चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?

सबसे पहले अमेरिका इस वायरस का नाम चीन वायरस के नाम से बुला रहा था और यह तक की अमेरिका के कई बड़े नेता लोगो ने बोला था कि इस वायरस को चीन ने अपने लैब में ही बनाया है लेकिन इसका सच अभी तक किसी को पता नहीं है.
आखिर क्यू अमेरिका और बाकी अर्थशास्त्री का मानना है इस वायरस को चीन ने बनाया है ?
अमेरिका और जितने बड़े अर्थशास्त्री सबका ये मानना है इस वायरस को चीन ने अपने एक लैब में बनाया है जिसकी वजह से ओह दुनिया कि गति को दिमा कर सके और कुछ साल के अंदर ही चीन दुनिया का सुपर पॉवर बन जाए जिस कारण से चीन ने इस वायरस को फैलाया है.

Also read : कोरोना वायरस क्या है? इससे कैसे बचें?

यह साफ भी दिख रहा है कि जब ये वायरस इतना खतरनाक है जिसने पूरी दुनिया के काम काज बंद करा दिए है तो इतने कम समय में चीन ने इस वायरस को इतना कंट्रोल में कैसे कर लिया है. 
जब कि इस वायरस की शुरुवात चीन से ही हुई है और इस वायरस ने चीन के संघाई सहर को भी कुछ नुकसान नहीं पहुंचाया और जितने भी देश है जब जगह ये वायरस फैल गया है तो चीन का इस वायरस से जायदा नुकसान क्यू नहीं हुआ ये सबसे बड़ी वजह मानी जा रही है.

चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?

और इनका ये भी मानना है कि चीन को इस वायरस का इलाज भी मालूम है जिस वजह से चीन में जायदा तर लोग इस वायरस के संक्रमण में आने के बावजूद भी ठीक हो गई है और चीन इतने कम समय में अपने सारे कारोबार भी सुरु कर दिए है 
इस बात को समझने के लिए ध्यान देना आप ने देखा होगा चीन से लगा हुआ है साउथ कोरिया लेकिन वह पर कोरोना वायरस के बहुत कम मरीज है और भी जितने चीन से मिले हुए देश है वह पर इस कोरोना वायरस के बहुत कम मरीज ही सामने आ रहे है और जहा पर इटली कि दूरी चीन से 7562 किलोमीटर है उस देश में इस कोरोना वायरस ने तहलका मचा रखा है और चीन से अमेरिका की दूरी है 7232 किलोमीटर है वहां पर भी कोरोना वायरस ने अब अपना गड़ बना लिया है .

चीन को इससे क्या फायदा है?


माना जा रहा है चीन दुनिया में अपने आप को सुपर पॉवर बनाना चाहता है जिस वजह से उसने कुछ ऐसा कदम उठाया होगा चीन को मालूम है ओह सैन्य कार्रवाई करके अमेरिका से नहीं जीत सकता है जिस कारण उसने कुछ ऐसा कदम उठाया है.
इस वायरस से बचने का एक ही उपाय  है कि सभी को एक दूसरे से दूरी बनाए रखना होगा तब जाकर इस महामारी से बचा जा सकता है और ऐसा करने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन करना पड़ता है.
जिस से सभी को अपने अपने घरों में ही रहना पड़ता है जिस के वजह से और देश और उस राज्य के लोग अपने काम दफ्तर नहीं जा सकते जिस वजह से उस देश और राज्य का भारी नुकसान होता है और इस बात का फायदा चीन को मालूम है 

चीन ने ही फैलाया है कोरोना वायरस ?

अमेरिका और चीन के बीच लड़ाई .


जहा तक इस covid 19 कोरोना वायरस की बात है ये तो सबको पता है चीन से ये वायरस फैला है अमेरिका ने इस वायरस को चीनी वायरस का नाम भी से दिया है तो वहीं चीन  ने भी एक बयान जारी करते हुए कहा  कि अमेरिकी सेना ने फैलाया कोरोना चीनी और कई दूसरे न्यूज मीडिया ने एक रिपोर्ट पब्लिश की है.
 इसके अनुसार 15 मार्च को पहली बार चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने ट्वीट कर इसे अमेरिकी आर्मी की साजिश बताया. उन्होंने ट्वीट किया, ये वायरस दरअसल अमेरिकी सेना ने ही चीन में छोड़ा था. हालांकि चीन के सोशल मीडिया में ये बात काफी समय से कयासों के तौर पर चल रही है.

No comments:

Post a Comment